समाजवादी पार्टी एवं कांग्रेस के पदाधिकारियों की संयुक्त बैठक- Arshad Jamal Chairman news

समाजवादी पार्टी एवं कांग्रेस के पदाधिकारियों की संयुक्त बैठक, कार्यकर्ताओं को प्रोत्साहन
आपसी समन्वय से करें काम, लोगों को पार्टी से जोड़ें कार्यकर्ता
  मऊनाथ भंजन। आगामी 4 मार्च को होन वेाले विधान सभा चुनाव को मद्देनजर रखते हुये आज लिटिल फ्लावर चिल्ड्रेन स्कूल में दोनों पार्टियों के पदाधिकारियों की एक संयुक्त बैठक हुयी। बैठक में गठबन्धन के प्रत्याशी अलताफ अंसारी की जीत को सुनिश्चित बनाने हेतु चुनावी मुद्दों पर विस्तार से चर्चा हुयी। बैठक में निर्णय लिया गया कि कांग्रेस एवं समाजवादी पार्टी के नेताओं की घोसी विधान सभा की 5 फरवरी को 11 बजे से, मधुबन विधान सभा की 5 फरवरी को 2 बजे से, मुहम्मदाबाद विधान सभा की 6 फरवरी को 11 बजे से संयुक्त बैठक होगी। जबकि मऊ विधान सभा की संयुक्त बैठक 4 फरवरी को हिन्दी भवन में 11 बजे से होगी। बैठक में यह भी तय हुआ कि जल्द ही एक जन सभा करके जनता से एकजुट होने की अपील की जायेगी। दोनों पार्टियों के कार्यकर्ताओं को आपसी समनवय स्थापित करने पर जोर दिया गया और विशेष कर शोशल मीडिया पर फोकस करते हुये अपनी बातें मतदाताओं तक पहुँचाने का भी निर्णय लिया गया।


सपा के जिलाध्यक्ष धर्म प्रकाश एवं कांग्रेस के जिलाध्यक्ष अवनीश सिंह ने कहा कि यूपी को यह साथ पसन्द है, मऊ को अलताफ पसन्द है। उन्होंने कहा कि हमारे कार्यकर्ता संयुक्त रूप से सपा व कांग्रेस की जन कल्याणकारी नितियों से अवाम को अवगत करायें। स्वयं दोनों कार्यकर्ता एक दूसरे के आपसी सहयोग से अवाम को एक जुट करें। मऊ की अवाम परिवर्तन चाहती है, और चाहती है कि अपने नेता एवं प्रतिनिधियों को अपने दुःख सुख की घड़ी में अपने करीब पाये।
अलताफ अंसारी ने यकीन दिलाया कि मैं पार्टी की रीढ़ की हड़्डी स्वरूप महत्वपूण अंग कार्यकर्ताओं के साथ पहले भी खड़ा रहा और अब भी चट्टान की तरह खड़ा हूँ। कहा कि किसी के साथ कोई जियादती नहीं होने दुँगा। अवसर मांगते हुये कहा कि मऊ की अवाम मुझ से चट्टी चैराहों पर भी अपनी सेवा ले पायेगी।
अरशद जमाल ने कहा कि चुनावी जीत कर गठबन्धन की सरकार बनाने हेतु पूरे प्रदेश में समाजवादी पार्टी एवं कांग्रेस के कार्यकर्ताओं को संयुक्त रूप से अधिक जागरूक एवं जुझारू बनाने के लिये जिम्मेदारियां सौंपी जा रही हैं। आज हम आपसी सहयोग से सहल एवं लोकप्रिय मार्ग अपना कर अपनी बातें अवाम तक पहुँचाने हेतु अपनी जिम्मेदारियों के प्रति कमर कस लें। श्री जमाल ने कहा कि यह गठबन्धन और भी मजबूत होगा। उन्होंने मिलकर 2019 में राहुल गाँधी को प्रधानमंत्री बनाने पर भी जोर दिया।
दोनों दलों के नेताओं में सोहैल नोमानी, जहीर सेराज, अबूबकर अंसारी, नौशाद अहमद, मुरलीधर आदि ने संयुक्त रूप से कहा कि चेतना पैदा करने की आवश्यकता है। हमारी सामूहिक जिम्मेदारी है कि गठबन्धन के हितों को अपने हित एवं लाभ से ऊपर रखते हुये समर्पित कार्यकर्ता के रूप में पार्टी को मजबूज बनाने के लिये काम करें।


इस बैठक में विशेषकर कांग्रेस जिलाध्यक्ष अवनीश सिंह, सपा जिलाध्यक्ष धर्म प्रकाश यादव, साधू यादव, जयन्त सिंह, ओम नारायण मिश्र, अशोक यादव, सुशील चैधरी, अशोक नारायन शर्मा, मकसूद अख्तर अंसारी, कुद्दूस अंसारी, अशोक यादव, नन्हकू प्रसाद राजभर आदि मौजूद रहे। संचालन पूर्व जिलाध्यक्ष अरशद जमाल ने किया।