अदबी मुशायरा एक शाम अचानक के नाम का खुबसूरत मंज़र

लोगों ने अदबी मुशायरे को पसंद किया आने वाले दिनों में हम इससे भी अच्छा मुशायरा कराने का प्रयत्न करेंगे -अरशद जमाल

मा० अखिलेश यादव ने लखनऊ में कराई अफ्तार पार्टी

मा० अखिलेश यादव ने लखनऊ में अफ्तार पार्टी दी जिसमे २०००० से अधिक लोगों ने शिरकत की

मौलाना आज़ाद मेमोरियल एकेडमी

मौलाना आज़ाद मेमोरियल एकेडमी की वेबसाइट के शुबारंभ पर मा०अखिलेश जी के इस उठाये गये कदम की सराहना करते हुवे अरशद जमाल

एक शाम अचानक के नाम

अदबी मुशायरा एक शाम अचानक के नाम -मुख्यअतिथि रहे शकील आज़मी जिनकी शान में बस यही किह देना काफी होगा की परों को खोल ज़माना उड़ान देखता है .. तू क्या ज़मीन पे बैठ कर आसमान देखता है ....!!

माइनॉरिटी स्टूडेंट फोरम मऊ

माइनॉरिटी स्टूडेंट फोरम मऊ के डायरेक्टर अरशद जमाल ने मऊ के होनहार बच्चों को सम्मानित किया

सख्त कानून: वध के लिए मवेशियों की खरीद-फरोख्त पर पाबंदी नाक़ाबिले बर्दाशत-अरशद जमाल


सख्त कानून: वध के लिए मवेशियों की खरीद-फरोख्त पर पाबंदीकेंद्र सरकार ने वध के लिए पशु बाजारों में मवेशियों की खरीद-फरोख्त पर प्रतिबंध लगा दिया है। पर्यावरण मंत्रालय ने पशु क्रूरता निरोधक अधिनियम के तहत सख्त पशु क्रूरता निरोधक (पशुधन बाजार नियमन) नियम, 2017 को अधिसूचित किया है।

अधिसूचना के मुताबिक, पशु बाजार समिति के सदस्य सचिव को यह सुनिश्चित करना होगा कि कोई भी शख्स बाजार में अवयस्क पशु को बिक्री के लिए न लेकर आए। किसी भी शख्स को पशु बाजार में मवेशी को लाने की इजाजत नहीं होगी, जबतक कि वहां पहुंचने पर वह पशु के मालिक द्वारा हस्ताक्षरित यह लिखित घोषणा-पत्र न दे दे, जिसमें मवेशी के मालिक का नाम और पता हो और फोटो पहचान-पत्र की एक प्रति भी लगी हो। यह भी स्पष्ट करना होगा कि मवेशी को बिक्री के लिए लाने का उद्देश्य उसका वध नहीं है। 


पर्यावरण मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने को बताया कि अधिसूचना पशु कल्याण के निर्देश के अनुरूप है।अधिसूचना में पशु बाजार को भी चिह्नित किया गया है। इसके अनुसार, ऐसी जगह जहां जानवरों को अन्य स्थानों से बेचने के लिए लाया जाता है और यह जगह किसी बाजार या बूचड़खाने से जुड़ा हुआ हो, पशु बाजार कहा जाएगा। पशु कल्याण बोर्ड के कानूनी उप समिति के पूर्व सदस्य एन.जी. जयसिम्हा ने कहा कि वर्तमान खुले बाजार की व्यवस्था में जहां दूध और वध वाले जानवरों की खरीद फरोख्त की अनुमति है और जहां हजारों क्रेता-बिक्रेता मौजूद हैं, किसी जानवर के मूल मालिक का पता लगाना मुश्किल काम है।  
उन्होंने कहा कि इसीलिए, पशु क्रूरता निरोधक (पशुधन बाजार नियमन) नियम- 2017 को अधिसूचित किया गया है।

पर्यावरण मंत्रालय द्वारा पशुओं के वध के लिए बाजार में लाने पर पूरे देश में पाबंदी लगा दिए जाने के बाद कानून और नियम को लेकर राज्यों में भ्रम की स्थिति पैदा हो गई है। ऐसा इसलिए हुआ कि इस मामले में राज्यों में अलग-अलग तरह के कानून हैं।
राज्यों में क्या हैं कानून जहां गोवध वैध है 

केरल, पश्चिम बंगाल, अरुणाचल प्रदेश, मिजोरम, मेघालय, नगालैंड, त्रिपुरा और सिक्किम मणिपुर में शाही शासन से ही गोवध पर प्रतिबंध है लेकिन राज्य में गोमांस भक्षण व्यापक पैमाने पर होता है।

जहां गोवध प्रतिबंधित है.

राजस्थान : गाय, बछड़ा, बछिया, सांढ़ और बैल के वध पर प्रतिबंध। इन पशुओं के मांस का आवागमन और उनका रखना भी प्रतिबंधित। पकड़े जाने पर दस साल की सजा और/ या दस हजार रुपये का जुर्माना।

आंध्र प्रदेश और तेलंगाना: पकड़े जाने पर छह माह की सजा और/ या एक हजार जुर्माना।

असम : वध के लिए जरूरी को छोड़कर गोहत्या प्रतिबंधित। बध के लिए उचित प्राधिकार का प्रमाण पत्र जरूरी।

बिहार: गाय-बछड़े की हत्या प्रतिबंधित। 15 साल के अधिक के बैल और सांढ़ के वध की इजाजत। उल्लंघन करनेवालों को छह माह जेल और एक हजार तक जुर्माना।

चंडीगढ़: यहां गाय, भैंस, बैल, सांढ़ का वध प्रतिबंधित। इनका मांस रखना, परोसना और खाना भी प्रतिबंधित।

छत्तीसगढ़: गाय, भैंस, सांढ़, बैल, बछड़ा का वध और उनका मांस रखना प्रतिबंधित। इन पशुओं का परिवहन, दूसरे राज्यों में वध के लिए भेजना भी प्रतिबंधित। पकड़े जाने पर सात साल की कैद और 50,000 तक जुर्माना।

दिल्ली: कृषियोग्य पशुओं- गाय, बछड़ा, सांढ़, बैल का कटान और उनका मांस रखने पर रोक। दिल्ली के बाहर से भी उनका मांस लाना वर्जित। भैंस और उसके बच्चे के मांस पर रोक नहीं।

गुजरात: गाय, बछड़ा, सांढ़, बैल का कटान और उनका मांस रखने पर रोक। पकड़े जाने पर सात साल की कैद और 50,000 तक जुर्माना। भैंस और उसके बच्चे के मांस पर रोक नहीं।


हरियाणा: 2015 में बने कानून के अनुसार, गाय, सांढ़, बैल, बछड़ा, बीमार, अपंग या बंध्या गाय के कटान पर रोक। पकड़े जाने पर दस साल की सजा और एक लाख तक का जुर्माना हो सकता है। डिब्बाबंद गोमांस और इससे बननेवाले सामानों की बिक्री तथा वध के लिए गायों के निर्यात पर भी रोक।

हिमाचल प्रदेश: गोवंश के किसी पशु की हत्या पर पांच साल की सजा। अगर पशु में कोई गंभीर बीमारी है या उद्देश्य शोध करना है तो वध की अनुमति।

जम्मू-कश्मीर: गाय और उसके बच्चे का वध प्रतिबंधित। पकड़े जाने पर साल साल की सजा। इन पशुओं के मांस को रखने पर एक साल की सजा। नर या मादा भैंस को काटने पर उसके मूल्य का पांच गुना जुर्माना।

झारखंड: गाय और बैल को काटना, उसके मांस को रखना और खाना प्रतिबंधित। पकड़े जाने पर दस साल की सजा और दस हजार रुपये जुर्माना।

कर्नाटक: बूढ़ी और बीमार गायों को काटने की अनुमति। गोमांस रखने पर प्रतिबंध नहीं। राज्य की भाजपा सरकार द्वारा 2010 में प्रस्तावित विधेयक के अनुसार, गोवध पर सात साल सजा और एक लाख रुपये जुर्माने का प्रावधान किया गया।

मोहल्ला प्रेमा राय मेंआयी भयंकर आंधी में करकट गिरने से 2 साल की बच्ची कीदर्दनाक मौत-अरशद जमाल


मोहल्ला प्रेमा राय, कोतवाली सदर मऊ, में  2 साल की बच्ची की  आज देर रात आयी भयंकर आंधी में करकट गिरने से दर्दनाक मौत-अरशद जमाल 



मऊनाथ भंजन। मोहल्ला प्रेमा राय, कोतवाली सदर मऊ, में कमरुज़्ज़मा साहब की 2 साल की पोती की आज रात आयी भयंकर आंधी में करकट गिरने से दर्दनाक मौत हो गई है. कमरुज़्ज़मा साहेब की 20 वर्षीय दूसरी पोती भी बुरी तरह घायल हो गयी है। वही कमरुज़्ज़मा साहेब के पड़ोसी खलील के मकान की छत भी टूट गयी है मगर पटनी होने के कारण उस कमरे मे सोया हुवा परिवार का कोई सदस्स्य घायल नही हुआ। दोनो परिवार बहुत गरीब है। मौके पर नायब तहसीलदार, लेखपाल तथा पुलिस को बुला लिया है।





   बुनकर समुदाय का यह दोनों परिवार अत्यंत गरीब है। मेरी कोशिश है कि मृतक के परिजनों को दैवीय आपदा कोष से 4 लाख का अनुदान मिल जाए।डॉक्टर नूरुद्दी साहब के मकान उड़े करकट और गिरी ईट से ये हादसा हुआ है।




शिलान्यास व पम्प हाउस का उद्घाटन-अरशद जमाल


लगभग 24 लाख रूपये की लागत से कई क्षेत्रों में नये अधिष्ठापित नलकूप के बोरिंग कार्य का हुआ शिलान्यास व पम्प हाउस का उद्घाटन
पेय जलापूर्ति आवश्यक, सुदूर सोच को आधार बना कर करता हूँ कार्य-अरशद जमाल

मऊनाथ भंजन। नगर पालिका अध्यक्ष प्रतिनिधि अरशद जमाल ने वार्ड 32 के कासिमपुरा क्षेत्र में नये अधिष्ठापित नलकूप के पम्प हाउस का उद्घाटन किया। इसी क्रम में वार्ड 33 के कल्यान सागर तथा वार्ड 35 के हुसैनपुरा क्षेत्रों में भी नये नलकूप के अधिष्ठापन हेतु बोरिंग कार्य का शिलान्यास मौलाना खुर्शीद अहमद के हाथों हुआ। जबकि पानी की पर्याप्त मात्रा में उपलब्धि की दुआ मौलाना कारी अब्दुल रशीद ने की।


इस अवसर पर मौलाना खुर्शीद अहमद ने लोगों को सम्बोधित करते हुये कहा कि पानी अल्लाह की अनमोल नेमत है, इस का दुरुपयोग नहीं करना चाहिये। मौलाना की जानिब से पालिका अध्यक्ष शाहीना अरशद जमाल एवं अध्यक्ष प्रतिनिधि अरशद जमाल का आभार व्यक्त किया गया। उन्होंने श्री अरशद जमाल को समाज के प्रति समर्पित विकास पुरूष की संज्ञा देते हुये कहा कि इन्होंने नगर की प्रत्येक समस्या पर अपनी कड़ी दृष्टि रख्खी हुयी है। मौलाना ने कहा कि अरशद जमाल को अवाम की समस्याओं को हल करने के बाद ही चैन आता है। 


इस अवसर पर लोगों को सम्बोधित करते हुये अध्यक्ष प्रतिनिधि श्री अरशद जमाल ने कहा कि गर्मी को मद्देनजर रखते हुये हर उस क्षेत्र में जहाँ पानी का अभाव है जगह की उपलब्धता एवं आवश्यकता के अनुसार वरीयताक्रम में नये नलकूप लगा कर जलापूर्ति सुनिश्चित कराई जा रही हैं। उन्होंने कहा कि इस नये अधिष्ठापित नलकूप से न सिर्फ कासिमपुरा कोट बल्कि कासिमपुरा बरतले, कासिमपुरा धोबिया इमली व सम्बन्धित वार्डाें के समीपवर्ती क्षेत्रों में भी पीने का पानी उपलब्ध होगा। श्री जमाल ने कहा कि वास्तव में पानी एक ऐसी आवश्यकता है जिसके अभाव में जीवन अत्यन्त कठिन बन जाता है। उन्होंने बताया कि नगर पालिका परिषद की चेयरमैन श्रीमती शाहीना अरशद जमाल के निर्देशानुसार नगर के सभी क्षेत्रों को जहाँ पानी की कमी महसूस की जा रही है वहाँ पानी उपलब्ध कराने के हर सम्भव उपाय किये जा रहे हैं। अपनी अपील में कहा कि आवश्यकता से अधिक पानी का प्रयोग हमारे संचित जल स्तर को प्रभावित करता है। उन्होंने कहा कि नगर में जलापूर्ति हेतु हमने कई स्थानों पर नये नलकूप अधिष्ठापित किये हैं और पुराने नलकूपों की क्षमता वृद्धि का प्रयास जारी है। श्री अरशद जमाल ने कहा कि मैं विकास कार्याें को कराते समय इस के लम्बे अर्से तक के लाभ पर ध्यान रखता हूँ ताकि लोग इससे अधिक से अधिक समय तक लाभान्वित होते रहें।



इस अवसर पर जावेद अहमद मेम्बर, मोईन मेम्बर, फैयाज मेम्बर, मोलवी अशफाक अहमद, रेयाज अहमद, खुर्शीद अहमद, हाशिम, जोहा, सहाबुद्दीन, ज्याउल हसन, नेसार अहमद, मकबूल अहमद, अताउर्रहमान, मुहम्मद सुफियान, मोलवी इर्शाद, इकबाल अहमद, मोलवी अब्दुल हलीम, मोनीर अहमद, अय्यूब खान आदि के इलावा बड़ी संख्या में क्षेत्रीय लोग उपस्थित थे। 

कासिमपुरा में 8 लाख रूपये की लागत से ट्यूब्वेल का शिलान्यास-अरशद जमाल


कासिमपुरा  में 8 लाख रूपये की लागत से ट्यूब्वेल का शिलान्यास
नगर के सभी क्षेत्रों में पेयजलापूर्ति सुनिश्चित करने हेतु लगाये जा रहे हैं नये ट्यूब्वेल-अरशद जमाल

मऊनाथ भंजन। आज शहर का सबसे ऊँचा स्थान माना जाने वाला (भूमि ऊंचाई की दृष्टिकोण से) मोहल्ला कासिमपुरा में पालिकाध्यक्ष प्रतिनिधि अरशद जमाल द्वारा एक नये नलकूप का शिलान्यास किया गया। इस ट्यूब्वेल का अधिष्ठापन कार्य लग भग 8 लाख रूपये की लगत से पूर्ण होगा। इससे कासिमपुरा के आमजनों को पानी की हो रही समस्या से छुटकारा मिल जाएगा।


इस नये नलकूप के अधिष्ठापन के मौके पर उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुये श्री अरशद जमाल ने कहा कि हम लगातार शहर को निखारने एवं इसके ऊबड़-खाबड़ डील-डोल को सम्तल बनाने एवं नगर को आवश्यक सुविधायें उपलब्ध कराने की हर सम्भव कोशिश में लगे हुये हैं। उन्होंने कहा कि इस नलकूप के उद्घाटन से आपके क्षेत्र को पीने का पानी पर्याप्त मात्रा में मिलेगा। नगर के सभी क्षेत्रों में पेयजलापूर्ति सुनिश्चित कराने हेतु नये नलकूपों का अधिष्ठापन तेज़ी से किया जा रहा है। कहा कि गर्मी के इस मौसम में पानी की सतह नीचे गिरने से लोगों को पीने के पानी की दुश्वारी हो रही है, और सामने रमज़ान के रोज़े भी हैं जिसे ध्यान में रखते हुये आम लोगों को राहत पहुँचाने के मकसद से हमने जनहित में यह कदम उठाया है। श्री जमाल ने कहा कि पानी अत्यन्त अनमोल एवं महत्वपूर्ण है, इसे व्यर्थ न बहावें।


अध्यक्ष प्रतिनिधि अरशद जमाल ने अपने ख्यालात का इजहार करते हुये कहा कि नगर के आम जनमानस को आववश्यक सुख सुविधा, पथप्रकाश एवं साफ-सुथरा मार्ग तथा नगर को मूलभूत सुविधायें मुहैया कराने के लिये हमने लगातार जनकल्याणकारी योजनाओं से नगरवासियों को लाभान्वित किया है। उन्होंने कहा कि इस समय नगर को पूरे प्रदेश में माडल नगर का गौरव प्राप्त है। श्री जमाल ने अवाम का आभार व्यक्त करते हुये कहा कि आपके सहयोग से ही हम यह कर पाये हैं। आपके साथ एवं सहयोग से हम नगर को और बेहतर बनाकर नगरवासियों को आवश्कता पूर्ति स्रोत उपलब्ध कराने की अपनी प्रतिबद्धता पर आगे भी काम करते रहेंगे।

नगर पालिका में सोशल मोबिलाइजेशन नेटवर्क व कोर ग्रुप पोलियो प्रोजेक्ट की बैठक-अरशद जमाल


नगर पालिका में सोशल मोबिलाइजेशन नेटवर्क व कोर ग्रुप पोलियो प्रोजेक्ट की बैठक
क्या किसी राष्ट्र को उसके बीमार, दुर्बल एवं अपाहिज नागरिक चला सकते हैं
समाज को बीमारी से बचाने के लिये सभी को करना चाहिये संयुक्त प्रयास-अरशद जमाल

मऊनाथ भंजन। नगर पालिका परिषद के मीटिंग हाल में आज सोशल मोबिलाइजेशन नेटवर्क कोर ग्रुप पोलियो प्रोजेक्ट की जानिब से एक बैठक आयोजित की गयी, जिस में पोलियो जैसी बीमारी से बचाव हेतु सहयोग प्रदान करने के क्रम में नगर के कई सम्भ्रांत नागरिकों एवं समाज सेवियों को पोलियो उनमूलन अभियान में उत्कृष्ट भूमिका निभाने हेतु बुकलेट फोल्डर एवं प्रशस्ती पत्र देकर प्रोत्साहित किया गया।


इस सम्मान समारोह में पोलियो जैसी घातक 7 अन्य जानलेवा मीमारियों के बारे में बताते हुये भवानी शंकर, शमशेर अली व मुहम्मद आरिफ ने बताया कि इनमें मुख्य रूप से टी0वी0, काली खांसी, गलाघोंट, टेटनेस, पीलिया, पोलियो, खसरा, दिमागी बुखार शामिल हैं। उन्होंने कहा कि हमने 2014 में पोलियो पर अल्लाह की मेहरबानी से सफलता पायी है। हमारे अंथक प्रयास तथा समाज के सभी वर्गाें, धर्माें के धर्मगुरुओं, समाजसेवी संस्थाओं एवं पोलियोग्रस्त परिवार के सामूहिक सहयोग से यह सफलता प्राप्त हुयी है। उन्होंने बताया कि आज उन्हीं लोगों को जिन्होंनेे सरकार के इस अभियान में हमारा साथ दिया है प्रोत्साहन करने हेतु इस जिला लेवेल इण्टरफेस मीटिंग का आयोजन किया गया है। उन्होंने उक्त सभी बीमारियों से पोर्वाेपाय हेतु कदम उठाने के क्रम में सभी बच्चों को उम्र के हिसाब से नियमित रूप से सम्बिन्धित टीका लगवाने की सलाह दी ताकि इन बीमारियों के प्रकोप से नन्हे नागरिकों को बचाया जा सके।
सी.एम.ओ. डा0 आर0के0 मिश्रा ने अपने वक्तब्य में कहा कि आज हम इस अवसर पर जिन लोगों को बधाई दे रहे हैं वे वास्तव में इनके पात्र हैं। क्यों कि इन लोगों ने उन अपनढ़ एवं समाज के मुख्य धारा से कटे लोगों को भी पोलियो से सम्बन्धित फैली भ्रान्ति एवं विनाश के बारे में बताया बावजूद इसके कि इन्हें समझा पाना आसान नहीं था। उन्होंने ओलेमा इकराम का शुक्रिया अदा करते हुये कहा कि चुनौतियों के बावजूद ओलेमा ने भी इस अभियान में हमारा साथ दिया है।




पूर्व पालिका अध्यक्ष अरशद जमराल ने कहा कि यहाँ की अवाम को पोलियो से मुतअल्लिक अफवाह से बाहर निकालना हम लोगों के लिये एक चैलेन्ज था क्यों कि इन्हें ये समझा पाना बड़ा मुश्किल था कि पोलियो की बूँद पिलाते ही आपका बच्चा नपुंसक नहीं बन जाता, बल्कि इसकी एक बूँद आपके बच्चे को अपाहिज होने से बचाने में मुआविन है। इस तरह के प्रश्नों का उत्तर देकर उन्हें संतुष्ट कर पाना एक मुश्किल काम था पर जब उलेमा-ए-कराम ने मस्जिदों एवं आम जल्सों से पोलियो ड्राप पिलाने की अपील की तभी यह सम्भव हो पाया है। उन्हों ने बताया कि 1995 तक पूरे संसार के आधे पोलियो के मरीज भारत में थे। 2006 से मऊ जिले में पोलियो का कोई मरीज नहीं पाया गया। यह स्वास्थ्य विभाग, जन प्रतिनिधियों, विश्व स्वास्थ्य संगठनों, धर्म गुरूओं के संयुक्त प्रयास से सम्भव हो पाया है। श्री जमाल ने कहा कि इस अभियान में महिलाओं की भागीदारी भी सुनिश्चित की जानी चाहिये, क्यों कि इस क्षेत्र में उनका बहुत बड़ा योगदान अपेक्षित है। उन्होंने कहा किघर में दाई से डिलेवरी नहीं कराई जानी चाहिये। इस अभियान के तहत सफाई का भी ध्यान रखा जाना चाहिये। श्री जमाल ने प्रश्न की मुद्रा में कहा कि क्या किसी राष्ट्र को उसके बीमार, दुर्बल एवं अपाहिज नागरिक चला सकते हैं, ये सम्भव नहीं है। यह सोचने की बात है कि जिस देश के लोग स्वस्थ्य नहीं उस देश के भविष्य का क्या हो सकता है। इस लिये इस बीमारी से मुक्ति दिलाने के प्रयास में जिन लोगों ने स्वास्थ्य विभाग एवं एन.जी.ओ. का साथ दिया वे निसंदेह बधाई के पात्र हैं। अल्लाह ने भी हमें पोर्वाेपाय करने को कहा है, इस लिये हमें पूरे समाज को इन घातक बीमारियों से बचाने हेतु अपने बच्चों का टीकाकरण जरूर करा लेना चाहिये। इससे उनका भविष्य सुरक्षित होगा। 



इस समारोह में श्री शमशेर ने प्रोजेक्ट के बारे में विस्तार से चर्चा की और मुख्य रूप से जिन लोगों ने अपने विचार व्यक्त किये उन में मौलाना इफ्तेखर अहमद, मौलाना रफीक अहमद, ए.सी.एम.ओ. डा0 पी0के राय आदि शामिल हैं।
इस सम्मान समारोह में पोलियो उनमूलन अभियान के जिला कार्यक्रम अधिकारी एवं सोशल मोबिलाइजेशन नेटवर्क एवं कोरग्रुप पोलियो प्रोजेक्ट के अधिकारीगण व उनके सहयोगी आदि उपस्थित रहे। अध्यक्षता पूर्व पालिका अध्यक्ष अरशद जमाल ने की तथा संचालन मुहम्मद आरिफ ने किया।

لچھی پورہ اوریئنٹل لائبریری میں وارڈ کارکنان کی میٹنگ-ارشد جمال


لچھی پورہ اوریئنٹل لائبریری میں وارڈ کارکنان کی میٹنگ
تمام کارکنان ہیں پرعظم، سبھی لوگوں کا ساتھ ہے درکار-ارشد جمال

مؤناتھ بھنجن۔ مؤ نگر پالیکا پریشد کے انتخاب کومد نظر رکھتے ہوئے آج لچھی پورہ واقع اوریئنٹل لائبریری میں وارڈ نمبر 8 کے کارکنان کی میٹنگ منعقد ہوئی۔سماجوادی پارٹی کی اس میٹنگ میں کارکنان کا ہجوم اتنا بڑا تھا کہ لابرئبریری کیمپس چھوٹا پڑ گیا۔میٹنگ میں تمام کارکنان منظم


اس میٹنگ سے خطاب کرتے ہوئے سابق چیئر مین و مؤ نگر پالیکا پریشد کے صدر کے عہدے کے امیدوار ارشد جمال نے کہا کہ اللہ نے ہر شخص کو کسی نہ کسی خاص خصوصیت سے نوازہ ہے۔انہوں نے کہا کہ جو لوگ اپنے اندر چھپی خصوصیات کو سمجھ لیتے ہیں اور اسی میدان میں آگے بڑھتے ہیں وہ کامیاب ہوتے ہیں شرط یہ ہے کہ وفاداری اور مخلصانہ طریقہئ کار پر عمل کرتے ہوئے کام کو انجام دیا جائے۔ مسٹر جمال نے کہا کہ طیب پالکی اچھے بزنس مین ہیں اور میں اچھی سیاست کر لیتا ہوں۔ سماج کو ہر فیلڈکے ماہرین کی ضرورت ہے۔ ہمیں ماہر لوگوں کے ساتھ معاشرے کی ترقی کو یقینی بنانا ہے۔ مسٹر جمال نے کہا کہ کارکن تنظیم کی مضبوطی کے ضامن ہوتے ہیں۔ اتنی بڑی تعداد میں آپ کی 
موجودگی سے مجھے کافی قوت حاصل ہوئی ہے اور میرے عظم میں اضافہ ہوا ہے۔


 انہوں نے کہا کہ بغیر کسی ذاتی مفاد اور بغیر کسی تعصب کے میں نے شہر کی چہار سو ترقی کے لئے ہر ممکن کام کیا ہے اور آگے بھی کرتا رہوں گا۔ سینئر سماجوادی لیڈر اظہار الحق انصاری، احمد صہیب ارسلان ایمن (ممبر)، شاہنواز اختر نے مجموعی طور پر کہا کہ ارشد جمال ہی ایک ایسے لیڈر ہیں جو ضرورت کے وقت ہر سکھ دکھ میں ساتھ نظر آتے ہیں اور ان کے اندر کوئی تعصب نہیں ہے۔ مسٹر جمال ایک طرف شہر کے نظم کو بہتر، خوبصورت و آسان بنانے میں مشغول ہیں تو دوسری جانب انہوں نے بہت سے بے روزگار نوجوانوں کو ٹھیکے پر کام دے کر انہیں روزی روٹی سے جوڑا ہے۔ شہر سماجوادی پارٹی کے صدر ظہیر سراج نے کہا کہ ارشد جمال نے قریشی برادری پر آئی افتادکو لے کر مفاد عامہ کی عرضی داخل کی اور الہ آباد ہائی کورٹ کی لکھنؤ بنچ نے ان کے مفاد عامہ کی عرضی پر فیصلہ دیا جس سے متاثرین کو راحت ملی ہے۔ انہوں نے کہا کہ مسٹر ارشد جمال تمام لوگوں کے دکھ دردکو محسوس کرنے والے محض ایک ایسے لیڈر ہیں جو شہر کو ہر طرح سے ماڈل اور خوبصورت نیز تمام خوبیوں سے مرسع کرنے کے کام میں مسلسل لگے ہوئے ہیں۔آپ سبھی کو ایک ساتھ مل کر انہیں کامیاب بنانا ہے۔ مختار حسین اور حافظ ارشاد احمد نے کہا کہ ہم کارکنان سماجوادی پارٹی کے پیلر ہیں۔ ہم ارشد جمال کو کامیاب بنانے کے لئے شہر کے ہر شخص سے مسٹر جمال کی صلاحیت اور قابلیت کے بارے میں بتائیں گے اور آپ کو اس مہم میں منظم ہوکر کام کرنا ہے۔ انتخاب میں مزیدتیزی لانے کیلئے وارڈ کمیٹی بھی تشکیل کی گئی۔ 


کمیٹی میں اخلاق پان والے، امجد، محمد ارشد،افتخار احمد، نیتا،محمد دانش، خورشید موبائل، نوشاد وسیم، اسماعیل سعید احمد،محمد اظہر، منو پہلوان، محمد ابراہیم، شاہد سہارا، پرویز سہیل، چھوٹک موبائل، چنو، انصار احمد، جاوید اختر،محمد اسماعیل، سیف عالم، ونیت یادو، شبیر احمد شامل ہیں۔ اس موقع پر اسماعیل ممبر، شہر جنرل سکریٹری محمد دانش، ماسٹر انس، امجد، شکیل احمد، جاوید چندن، قرۃ العین،ساجد ماریا، ماسٹرمحفوط، محمد کمال، اوزیر احمد، ارشد جمال پورہ، شیرا، محمود، علی احمد، اخلاق احمد، ارشد لمبو وغیرہ کے علاوہ بڑی تعداد میں کارکن اور علاقائی لوگ موجود رہے۔ اجلاس کی صدارت محمد ابراہیم نے کی اورنظامت کے فرائض ماسٹراظہار الحق انصاری نے کیا۔






लच्छीपुरा ओरियण्टल लाइब्रेरी में वार्ड की कार्यकर्ता बैठक-अरशद जमाल

लच्छीपुरा ओरियण्टल लाइब्रेरी में वार्ड की कार्यकर्ता बैठक
प्रत्येक कार्यकर्ता है संगठित, सभी लोगों का साथ है दरकार-अरशद जमाल

मऊ। नगर पालिका चुनाव को मद्देनजर रखते हुये आज लक्ष्छीपुरा स्थित ओरियण्टल लाइब्रेरी में वार्ड नं0 8 की कार्यकर्ता बैठक सम्पन्न हुयी। कार्यकर्ताओं का हुजूम इतना बड़ा था कि लाब्रेरी कैम्पस छेटा पड़ गया। सभी कार्यकर्ता संगठित एवं कार्यशील नजर आ रहे थे। 
इस कार्यकर्ता बैठक को सम्बोधित करते हुये पूर्व पालिका अध्यक्ष एवं नगर पालिका अध्यक्ष पद के उम्मीदवार अरशद जमाल ने कहा कि अल्लाह ने हर व्यक्ति के अन्दर कुछ न कुछ विशेष गुण दिये हैं। उन्होंने कहा कि जो लोग अपने अन्दर छुपे गुण को पहचान कर उसी क्षेत्र में आगे बढ़ते हैं वह कामियाब होते हैं शर्त यह है कि वफादारी और कर्तब्य निष्ठा के साथ काम को अन्जाम दिया जाये। श्री जमाल ने कहा कि तैयब पालकी अच्छे बिजिनेस मैन हैं और मैं अच्छी राजनीति कर लेता हूँ। समाज को हर क्षेत्र के दक्ष लोगों की आवश्यकता है। हमें दक्ष लोगों के साथ समाज की उन्नति को सुनिश्चित करना है। श्री जमाल ने कहा कि कार्यकर्ता संगठन की मजबूती के द्योतक होते हैं इतनी बड़ी संख्या में आपकी मौजूदगी से मुझे काफी बल प्राप्त हुआ है। उन्होंने कहा कि नगर के समुचित विकास के लिये बिना भेद भाव से मैंने काम किया है और आगे भी करता रहूँगा।


वरिष्ठ समाजवादी नेता इजहारुलहक अंसारी, अहमद सोहैब अर्सलान ऐमन (मेम्बर), शहनवाज अख्तर ने सुयुक्त रूप से कहा कि अरशद जमाल ही एक ऐसे नेता हैं जो आवश्यकता के समय हर सुख दुख में साथ नजर आते हैं। उनके अन्दर कोई भेद भाव नहीं है। श्री जमाल एक तरफ नगर की व्यवस्था को सुन्दर एवं सुचारू बनाने में लगे हुये हैं तो दूसरी ओर उन्होंने बहुत से बेरोजगार नौजवानों को ठेके पर नौकरी देकर उनके जीवको पार्जन की भी व्यवस्था की है।

नगर समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष जहीर सेराज ने कहा कि अरशद जमाल ने कुरैशी बिरादरी पर आयी समस्या को लेकर जनहित याचिका दाखिल की और इलाहाबाद हाई कोर्ट कीे लखनऊ बेंच ने उनकी जनहित याचिका पर फैसला दिया जिससे प्रभावितों को राहत मिली है। उन्होंने कहा कि श्री अरशद जमाल सभी लोगों के दुख दर्दको महसूस करने वाले एक मात्र ऐसे नेता हैं जो नगर को हर प्रकार से माडल एवं सुन्दर व सर्वगुण सम्पन्न बना सकते हैं। 
मुख्तार हुसैन व हाफिज इर्शाद अहमद ने कहा कि हम कार्यकर्तागण समाजवादी पार्टी के पीलर हैं। हम श्री जमाल को कामयाब बनाने के लिये नगर के प्रत्येक व्यक्ति से इनकी क्षमता और काबिलियत के बारे में बतायेंगे इस कार्य में आपको संगठित होकर काम करना है।
चुनाव में तीव्रता लाने हेतु वार्ड कमेटी का भी गठन किया गया। कमेटी में अख्लाक पान वाले, अमजद, मु0 अरशद, इफ्तेखर अहमद नेता, मु0 दानिश, खुर्शीद मोबाइल, नौशाद वसीम, इस्माईल सईद अहमद, मु0 अजहर, मुन्नू पहलवान, मु0 इब्राहीम, शाहिद सहारा, परवेज सुहैल, छोटक मोबाइल, चुन्नू, अन्सार अहमद, जावेद अख्तर, मु0 इस्माईल, सैफ आलम, शब्बीर अहमद शामिल हैं।


इस अवसर पर इस्माईल मेम्बर, नगर महासचिव मुहम्मद दानिश, मास्टर अनस, अमजद, शकील अहमद, जावेद चन्दन, कुर्रतुल ऐन, साजिद मारिया, मास्टर महफूज, महफूज, मुहम्मद कमाल, ओजैर अहमद, अरशद जमालपुरा, शेरा, महमूद, अली अहमद, एख्लाक अहमद, अरशद लम्बू आदि के इलावा बड़ी संख्या में कार्यकर्ता एवं क्षेत्रीय लोग उपस्थित रहे। बैठक की अध्यक्षता मुहम्मद इब्राहीम ने की तथा संचालन मास्टर इजहारुलहक अंसारी ने किया।

चुनाव अभियान की पहली मिटिंग काजीदामूपुरा से आरम्भ हुई, उमड़ा जनसैलाब-अरशद जमाल


आगामी नगर पालिका परिषद चुनाव अभियान की पहली मिटिंग काजीदामूपुरा से आरम्भ हुई, उमड़ा जनसैलाब

मऊनाथ भंजन, मऊ। विधानसभा चुनाव के बाद अब नगर पालिका के चुनाव के लिये सभी प्रत्याशियों ने अपनी-अपनी कमर कस ली है। इसी क्रम में नगर पालिका के पूर्व चेयरमैन श्री अरशद जमाल ने शनिवार से अपने चुनाव का बिगुल बजा दिया। शनिवार की रात नगर के काजीदामूपुरा मुहल्ले में अरशद जमाल ने अपनी चुनवाी अभियान की शुरूआत की। इस दौरान लोगों का हूजुम देखने को मिला।

  
अरशद जमाल ने अपने सम्बोधन में कहा कि हमें किसी की कमी को गिनने की आवश्यक्ता नहीं है, बल्कि अपना काम बताना है कि हमने गत 5 वर्ष में जनहित के लिये क्या-क्या कार्य किये हैं और आने वाले समय में क्या-क्या करने का इरादा रखते हैं। इसी क्रम में अरशद जमाल ने यह भी कहा कि दलबदलूओं से सावधान रहने की ज़रूरत है जो अपने स्वार्थ के लिये किसी भी हद तक जा सकते हैं वह अवाम की आवश्यक्ताओं को पुरा करने में सक्षम नहीं हो सकते।



उन्होंने कहा कि मुख्तार अंसारी ने हमेशा नगर निकाय के चुनाव में बाहर के व्यक्तियों को लड़ाते चले आ रहे हैं, उनकी पार्टी से जुड़े हुये लोग काफी हताश व निराश हैं कि हर बार की तरह इस बार भी चुनाव मे मुख्तार अंसारी द्वारा उन्हें नगर पालिका चुनाव में टिकट नहीं दिया गया जिस के कारण उनके पार्टी कार्यकर्ता काफी आहत हैं। पालिका चुनाव में मुख्तार अंसारी के प्रत्याशी को हमेशा हराते चले आ रहें हैं और इस बार भी इंशाअल्लाह हरा कर दिखायेंगे। 



भिखारीपुरा में 8 लाख रूपये की लागत से नया नलकूप अधिष्ठापित-अरशद जमाल


भिखारीपुरा में 8 लाख रूपये की लागत से नया नलकूप अधिष्ठापित
जलापूर्ति हेतु विशेष कदम, उन्नति के पथ को किया प्रशस्त, दायित्वों के निर्वहन में नहीं छोड़ी कोई कोर कसर-अरशद जमाल

मऊनाथ भंजन। पालिका द्वारा कराये जा रहे नगर में विकास कार्याे को सुचारू बनाने एवं आम नगर वासियों को गर्मी के कारण पानी की कमी से हो रही समस्या के निवारण के क्रम में आज भिखारीपुरा में भी लगभग 8 लाख रूपये की लागत से एक नये नलकूप के अधिष्ठापन हेतु बोरिंग कार्य का शुभारम्भ अध्यक्ष प्रतिनिधि अरशद जमाल के हाथों सम्पन्न हुआ। इस सम्बन्ध में भिखारी पुरा मुहल्ला वासियों द्वारा पानी की समस्या को दूर करने की काफी दिनों से मांग की जा रही थी जो आज पूरी हो गयी।


   इस अवसर पर लोगों को सम्बोधित करते हुये श्री जमाल ने बताया कि पानी की समस्या को दूर करने में कई अवरोध आते रहते हैं जिन्हें दूर कर हमें कार्य सम्पन्न करना होता है। उन्होंने बताया कि ब्राम्हण टोला में नलकूप के अधिष्ठापन हेतु जगह नहीं मिल पा रही थी तो वहां के मन्दिर के परिसर ने जगह दी। इसी तरह डोमनपुरा में भी जगह नहीं मिल रही थी तो अलफारूक माडल स्कूल ने अपने परिसर में जगह दी। क्यारी टोला में भी जगह नहीं मिल रही थी तो रामलीला समिति ने राजगद्दी के मैदान में नलकूप लगाने की अनुमति दी, जिससे लोगों को पानी जैसी अहम आवश्यकता की पूर्ति हेतु वांछित स्थानों पर नलकूप लगाये गये। उन्होंने कहा कि अगर किसी व्यक्ति के त्याग एवं सहयोग से लोगों को पीने का पानी आसानी से मिल जाये तो यह मानवीय सेवा के साथ बड़े पुण्य का काम है। ऐसे लोग सराहना के पात्र हैं। श्री जमाल ने कहा कि शहर में आवश्यक निर्माण कार्य कराये गये हैं तथा मऊ नगर की क्षेत्रीय समस्याओं को दूर करने का हर सम्भव प्रयास करते हुये हमने नगरवासियों के सुख-दुख में सदैव साथ रहकर सहयोग किया है। उन्होंने कहा कि हमने अपनी जिम्मदारियों के निर्वहन में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी  और न ही भवियष्य में कोई कसर छोड़ेंगे।
इस अवसर पर हाफिज सलीम, इर्शाद अहमद, मुहम्मद अरशद, जीमल अहमद, मुनव्वर, राशिद, फखरुद्दीन, हफीजुर्रहमान, न्याज अहमद, शाहिद नसीम, शब्बीर अहमद, विक्की, मंजूर, मकसूद, सईद अहमद आदि के इलावा बड़ी संख्या में क्षेत्रीय लोग उपस्थित रहे।

अरशद जमाल ने सुप्रीम कोर्ट में आज दाखिल किया केविएट-अरशद जमाल


अरशद जमाल ने सुप्रीम कोर्ट में आज दाखिल किया केविएट 

मऊनाथ भंजन। नगर पालिका परिषद के पूर्व चेयरमैन अरशद जमाल ने इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ खण्डपीठ द्वारा उनकी जानिब से दाखिल जनहित याचिका सं0 9740/2017 (अरशद जमाल व अन्य बनाम उ0प्र0 सरकार) व रिट याचिका सं0 8293/2017 (मुहम्मद मुस्तफा व अन्य बनाम भारत सरकार) व अन्य याचिकाओं पर दिनांक 12.05.2017 को दिये गये निर्णय के उपरान्त आज दिनांक 19.05.2017 को उन्होंने सुप्रिम कोर्ट में अपना केविएट दाखिल कर दिया है।


   ज्ञातब्य रहे कि गोश्त बन्दी के बाद इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ खण्डपीठ में गोश्त की नई दुकानों के लाइसेंस जारी करने और नवीनीकरण करने हेतु 26 लोगों ने रिट याचिकायें दाखिल की थीं। इसी के साथ श्री अरशद जमाल ने मऊ नगर पालिका परिषद द्वारा निर्मित बूचड़खाने को आरम्भ करने और गोश्त की दुकानों के लाइसेंस जारी करने और नवीनीकरण करने हेतु जनहित याचिका दाखिल की थी जिस पर हाईकोर्ट ने फैसला सुनाया था। श्री जमाल ने बताया कि उन्होंने यह एहतियाती कदम इस लिये उठाया है कि अगर उ0प्र0 सरकार इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ खण्डपीठ के द्वारा दिये गये इस निर्णय के विरुद्ध सुप्रिम कोर्ट जाती है तो सर्वाेच्च न्यायालय किसी निर्णय से पूर्व हमारा पक्ष भी सुनेगी।

केविएट की कॉपी डाउनलोड करने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें 



     



ارشد جمال نے سپریم کورٹ میں آج داخل کیا کیویئٹ-ارشد جمال


ارشد جمال نے سپریم کورٹ میں آج داخل کیا کیویئٹ


مؤناتھ بھنجن۔ مؤ نگر پالیکا پریشد کے سابق چیئرمین ارشد جمال نے الہ آباد ہائی کورٹ کی لکھنؤ بینچ میں ان کی جانب سے داخل جن ہت یاچکا نمبر9740/2017(ارشد جمال و دیگر بنام اتر پردیش حکومت) اور رِٹ پٹیشن نمبر 8293/2017(محمد مصطفی اور دیگر بنام بھارت سرکار) اور دیگر درخواستوں پر تاریخ 12-05-2017 کو دیئے گئے فیصلے کے بعدآج بتاریخ 19-05-2017 کو انہوں نے احتیاطی طور پر سپریم کورٹ میں اپناکیویئٹ داخل کر دیا ہے۔معلوم ہو کہ گوشت بندی کے بعد الہ آباد ہائی کورٹ کی لکھنؤ بینچ میں نئی دکانوں کے لائسنس جاری کرنے اور ان کی تجدید کرنے کے لئے 26 لوگوں نے رِٹ یاچکائیں داخل کی تھیں۔ اسی کے ساتھ مسٹر ارشد جمال نے مؤ نگر پالیکا کے ذریعہ تعمیر کرائے گئے سلاٹر ہاؤس کو شروع کرنے، نئی گوشت کی دکانوں کے لائسنس جاری کرنے اور انکی تجدید کرنے کے لئے جن ہت یاچکا داخل کی تھی جس پر ہائی کورٹ نے فیصلہ سنایا تھا۔مسٹر جمال نے بتایا کہ انہوں نے یہ احتیاطی قدم اس لیے اٹھایا ہے کہ اگر اتر پردیش حکومت الہ آباد ہائی کورٹ کی  لکھنؤبینچ کے ذریعہ دیئے گئے اس فیصلے کے خلاف سپریم کورٹ جاتی ہے تو عدالت عظمیٰ ہمارا موقف سننے کے بعد کوئی بہترفیصلہ کریگی۔

अरशद जमाल ने उत्तर प्रदेश सरकार व नगर पालिका परिषद मऊ को उच्च न्यायालय के फैसले की नकल उपलब्ध करायी

अरशद जमाल ने उत्तर प्रदेश सरकार व नगर पालिका परिषद मऊ को उच्च न्यायालय के फैसले की नकल उपलब्ध करायी

मऊनाथ भंजन। नगर पालिका परिषद के पूर्व चेयरमैन अरशद जमाल ने उ0प्र0 सरकार, लखनऊ को पत्र लिख कर औपचारिक रूप से अवगत कराया। उन्होंने इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ खण्डपीठ द्वारा उनकी जानिब से दाखिल जनहित याचिका सं0 9740/2017 (अरशद जमाल व अन्य बनाम उ0प्र0 सरकार) व रिट याचिका सं0 8293/2017 (मुहम्मद मुस्तफा व अन्य बनाम भारत सरकार) व अन्य याचिकाओं पर दिनांक 12.05.2017 को दिये गये निर्णय के अनुसार उ0प्र0 सरकार खाद्य सुरक्षा विभाग और नगरीय निकायों को पशुवधशालाओं के उच्चीकरण करने तथा मांस की दुकानों को लाइसेंस दिये जाने एवं उनका नवीनीकरण किये जाने की मांग की है। 


पत्र में श्री जमाल ने प्रमुख सचिव उ0प्र0 सरकार, लखनऊ से नगर विकास न्यायालय द्वारा पारित आदेश के अनुसार सारहू सलाटर हाउस नगर पालिका परिषद मऊनाथ भंजन को जल्द से जल्द चालू किये जाने की मांग की है। इस क्रम में श्री जमाल ने 83 पन्ने पर आधारित माननीय उच्च न्यायालय के आदेश की कापी जिलाधिकारी, मऊ, नगर पालिका अध्यक्ष व अधिशासी अधिकारी, नगर पालिका परिषद, मऊ को भी उपलब्ध करायी है तथा इसी के साथ आदेश के अनुपालन में आवश्यक कार्यवाही करने का अनुरोध भी किया है। श्री जमाल ने बताया कि जल्द ही रमजान शुरू होने वाला है इस लिये सरकार को फौरन कोई न कोई समाधान करना चाहिये। फैसले के क्रम में श्री जमाल आज सर्वाेच्च न्यायालय में अपना केविएट दाखिल करने दिल्ली जायेंगे।

ارشد جمال نے اتر پردیش حکومت اورمؤ نگر پالیکا پریشد کوہائی کورٹ کے فیصلے کی نقل فراہم کرائی-Arshad Jamal



ارشد جمال نے اتر پردیش حکومت اورمؤ نگر پالیکا پریشد کوہائی کورٹ کے فیصلے کی نقل فراہم کرائی


مؤناتھ بھجن۔ مؤ نگر پالیکا پریشد کے سابق چیئرمین ارشد جمال نے اتر پردیش حکومت،لکھنؤ کو خط لکھ کر مطلع کرتے ہوئے الہ آباد ہائی کورٹ کی لکھنؤ بینچ میں ان کی جانب سے داخل جن ہت یاچکا نمبر9740/2017(ارشد جمال و دیگر بنام اتر پردیش حکومت) اور رٹ پٹیشن نمبر 8293/2017(محمد مصطفی اور دیگر بنام بھارت سرکار) اور دیگر درخواستوں پر تاریخ 12-05-2017 کو دیئے گئے فیصلے کے مطابق اتر پردیش حکومت کے غذائی تحفظ کے سیکشن اور شہری اداروں کو مذبح خانوں کی جدید کاری کرنے اور گوشت کی دکانوں کو لائسنس دیئے جانے اور ان کی توسیع کرنے کا مطالبہ کیا ہے۔ خط میں مسٹر جمال نے چیف سکریٹری نگر وکاس، اتر پردیش حکومت، لکھنؤ سے کورٹ کے ذریعہ لئے گئے فیصلے کے مطابق سارہو سلاٹر ہاؤس مؤ نگر پالیکا پریشد، مؤناتھ بھجن کو جلد سے جلد چالو کئے جانے کا بھی مطالبہ کیا ہے۔ اس ضمن میں مسٹر جمال نے 83 صفحات پر مبنی معزز ہائی کورٹ کے حکم کی کاپی ضلع مجسٹریٹ، چیئر مین نگر پالیکا پریشد اور ایگزیکٹیو آفیسر،نگر پالیکا پریشد کو بھی دستیاب کرائی ہے۔ اسی کے ساتھ معززعدالت کے حکم کی تعمیل میں ضروری کارروائی کرنے کی درخواست بھی کی ہے۔ مسٹر جمال نے بتایا کہ جلد ہی رمضان شروع ہونے والا ہے اس لیے حکومت کو فورا ًکوئی نہ کوئی حل تلاش کرنا چاہیئے۔ فیصلے کے لئے مسٹر جمال آج سپریم کورٹ میں اپنا کیویٹئٹ داخل کرنے دہلی جائیں گے۔

लगभग 8 लाख रूपये की लागत से क्यारी टोला में नये ट्यूब्वेल के बोरिंग कार्य का शिलान्यास-अरशद जमाल


लगभग 8 लाख रूपये की लागत से क्यारी टोला में नये ट्यूब्वेल के बोरिंग कार्य का शिलान्यास
पूरानेजाम क्षेत्र को मिलेगा पीने का मीठा पानी, जलापूर्ति के लिये उठाये जा रहे हैं कदम-अरशद जमाल

मऊनाथ भंजन। नगर पालिका पषिद द्वारा पेय जलापूर्ति की सुचारू व्यवस्था को मद्देनजर रखते हुये वार्ड नं0 29 के क्यारीटोला मीठा कुँआ में आज लगभग 8 लाख रूपये की लागत से अधिष्ठापित होने वाले एक नये नलकूप की बोरिंग कार्य का शुभारम्भ हो गया। बोरिंग कार्य का शिलान्यास मोलाना इफ्तेखार अहमद मिफ्ताही के हाथों सम्पन्न हुआ। 
शिलान्यास के इस अवसर पर मौलाना इफ्तेखार अहमद ने अपने सम्बोधन में कहा कि अवामी नुमाइन्दों का दायित्व है कि वह अवाम की हर छोटी बड़ी आवश्यकताओं के लिये काम करें। उन्होंने कहा कि अरशद जमाल ने नगर एवं नगर की अवाम की समृद्धि के लिये आवश्यक उन्नति स्रोत मुहैया कराये हैं, जिसके अभाव में नगर वासियों को कठिनाई झेलनी पड़ सकती थी, पर इनकी कुशल देख-रेख में हमारा नगर उन्नति एवं समृद्धि की ओर तेजी से अग्रसर है।


बोरिंग कार्य के शिलान्यास के इस अवसर पर पालिका अध्यक्ष प्रतिनिधि अरशद जमाल ने कहा कि हमने नगर को उन्नति के मुख्य धारा से जोड़ा है पर अभी मऊ नगर को और बेहतर बनाने की हमारी जन हितैषी योजनायें हैं जिसके क्रियांवयन से अगली नसलें भी लाभ उठायेंगी। हम इन योजनाओं के माध्यम से नगर में पानी, शिक्षा, स्वास्थ्य एवं बिजली की पूर्ति हेतु पर्याप्त संसाधन उपलब्ध करायेंगे। जिससे नगर में जीवन स्तर काफी सहल बन जायेगा। इस ट्यूब्वेल के अधिष्ठापन से पूरानेजाम क्षेत्र में पीने के मीठे पानी की उपलब्धता सुनिश्चित होगी और आपको जल्द ही शुद्ध पेय जलापूर्ति मिलने लगेगी। 
इस अवसर पर वार्ड सभासद शमशाद, नौशाद अहमद पत्रकार, नासिर, आमिर, मुहम्मद ताबिश समन, इम्तेयाज अहमद, आफताब, अबुल्लैस, अब्दुल्लाह, शकील, रेयाज, कुद्दूस आदि के इलावा बड़ी संख्या में लोग उपस्थित रहे।

गोश्तबन्दी को लेकर इलाहाबाद हाई कोर्ट के लखनऊ बेंच के फैसले पर अरशद जमाल का मऊ में हुआ भब्य स्वागत


गोश्तबन्दी को लेकर इलाहाबाद हाई कोर्ट के लखनऊ बेंच के फैसले पर अरशद जमाल का मऊ में हुआ भब्य स्वागत
मऊनाथ भंजन। कल गोश्तबन्दी के मामले में इलाहाबाद हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच के फैसले के बाद आज लखनऊ से अपनी वापसी के दौरान जब पूर्व पालिका अध्यक्ष अरशद जमाल मिर्जाहादीपुरा चैक पहुँचे तो कुरैशियों और मुकामी लोगों ने उनका भब्य स्वागत करते हुये उन्हें फूल मालाओं से लाद दिया। श्री जमाल के स्वागत में एकत्रित जनसमूह में लोगों को यह कहते हुये सुना गया कि अरशद जमाल ने ऐसे संकट के समय जब हमारी रोजी रोटी बन्द हो चुकी थी और कोई हमारी सुधबुध लने वाला नहीं था, तो इन्होंने हमारे लिये स्वयं कानूनी लड़ाई लड़कर हमें पुनः जीवन की ओर लौटाया है।

 इस अवसर पर पूर्व पालिका अध्यक्ष श्री अरशद जमाल ने उनके स्वागत हेतु उमड़ी भीड़ का आभार व्यक्त करते हुये कहा कि एन.जी.सी. और सुप्रिमकोर्ट के निर्देश के बाद पूरे प्रदेश में सलाटर हाउस चलाने और मांस की बिक्री पर रोक लगी हुयी थी। उन्होंने कहा कि जब तक उ0प्र0 में समाजवादी सरकार थी तब तक लोगों को किसी भी प्रकार की दिक्कत नहीं उठानी पड़ी। मगर प्रदेश की सत्ता बदलते ही भाजपा ने अपने संकल्प पत्र की घोषणा के अनुसार सभी बूचड़ खाने और मांस की बिक्री पर कड़ाई से रोक लगा दी। सुप्रिम कोर्ट के दूसरे आदेश के अनुसार उ0प्र0 की पिछली सरकार ने सलाटर हाउसों के उच्चीकरण का कार्य शुरू कर दिया था। नगरीय निकायों द्वारा बूचड़ खानों के प्रस्ताव को स्वीकृति के लिये बनायी गयी हाई पावर कमेटी ने कई बूचड़ खानों को अनुमति भी प्रदान की और फंड भी जारी किया। इस सम्बन्ध में पूर्व चेयर मैन अरशद जमाल द्वारा मऊ नगर पालिका परिषद से वांछित मशीनों व वांछित निर्माण हेतु 5 करोड़ रूपये का प्रस्ताव भी जनपद स्तरीय समिति से स्वीकृति के बाद शासन को अग्रसारित किया गया था। मऊ से शासन को भेजे गये डी.पी.आर. के अनुसार बने हुये वध शाला के भवन को बातानुकूलित करना, भैंस को काटने के लिये संयन्त्र लगाना, गन्दे पानी को साफ करने के लिये ट्रीटमेंट प्लान्ट लगाना, भैंसों को बांधने एवं उनकी जाँच के लिये एक नैरेज का निर्माण करना, सफाई व्यवस्था को सुदृढ़ बनाने के लिये आवश्यक कमद उठाना, बड़ा डिफ्रिजर व जनरेटर लगाने जैसी योजनाओं को पूर्ण करके सलाटर हाउस को चालू करने की योजना पर कार्य कराया जाना शामिल है।

 उन्होंने कहा कि सरकार बदलते ही सारी योजनाओं पर रोक लगा दी गयी। पूर्व पालिका अध्यक्ष अरशद जमाल ने बताया कि इस रोक से परेशान हो कर मीट दुकानदारों ने इलाहाबाद उच्च न्यायालय में मीट की दुकानों के लाइसेंस बनाने व लाइसेंस के नवीनीकरण पर लगी रोक के विरूद्ध कई रिट पेटीशन दाखिल किया था, जिस में पहली याचिका मुहम्मद मुस्तफा लखीमपुर के नाम से दाखिल की गयी थी। मगर इन याचिकाओं में कोई भी जनहित याचिका सलाटर हाउस की अनुमति के लिये नहीं की गयी थी। किसी भी याचिकाकर्ता ने अपने पक्ष में मजबूत सबूत नहीं लगाया था, जिससे कि सरकार को घेरा जाता। श्री जमाल ने बताया कि जब लखनऊ पहुँचकर मैने याचिकाकर्ताओं के अधिवक्ताओं से वार्ता की तो मुझे  इस कमजोरी का एहसास हुआ और मैने स्वयं मऊ के सलाटर हाउस को चालू करने के लिये अपने नाम से जनहित याचिका करने का निर्णय लिया। उन्होंने बताया कि इसके लिये लखनऊ में 2 दिन रुक कर मैंने जरूरी कागजात और सबूत भी उपलब्ध कराये। इसका नतीजा यह हुआ कि सबूत के अभाव में जहाँ सभी अधिवक्ता मायूस नजर आ रहे थे वहीं कागजात एवं सबूत की उपलब्धता के बाद उनके अन्दर एक नई उर्जा आ गयी। उन्होंने बताया कि चार दिनों तक चली इस बहस के बाद जो निर्णय आया उस में स्पष्ट तौर से कहा गया है कि किस को क्या खाना है यह तय करना सरकार का काम नहीं है। अगर लोग मांसहार खाना चाहते हैं तो सरकार का दायित्व बनता है कि वह नियमों और न्यायालय के आदेश के अनुसार सलाटर हाउस बनाये और लाइसेंस जारी करे। श्री जमाल ने अवगत कराते हुये कहा कि माननीय न्यायालय के दो जजों की बेंच ने अपने 83 पन्नों के निर्णय में पेज नं0 6 के इलावा और भी कई स्थानों पर मेरे द्वारा की गयी माँगों और नगर पालिका परिषद, मऊ का जिक्र करते हुये उ0प्र0 सरकार, समस्त मण्डलायुक्त, समस्त जिलाधिकारियों और समस्त नगर पालिका अध्यक्षों को स्पष्ट निर्देश दिया है कि 17 जुलाई 2017 से पहले सलाटर हाउसों को चालू करने, मीट की दुकानों का लाइसेंस देने या उनका नवीनीकरण करके आदालत में पेश हो कर रिपोर्ट करना सुनिश्चित करें। अरशद जमाल ने बताया कि कोर्ट ने यह भी कहा है कि जब तक सलाटर हाउस निर्मित नहीं हो जाते तब तक सरकार और नगरीय निकाय मांसाहार उपयोग करने वाले लोगों की आवश्यकताओं की पूर्ति के लिये रास्ता निकालने पर भी विचार करें। पूर्व पालिका अध्यक्ष ने इस सम्बन्ध में बताया कि कुल 27 याचिकाओं में से 26 व्यक्तिगत याचिकायें हैं और अरशद जमाल द्वारा दायर याचिका ही एक मात्र जनहित याचिका है, जिस पर न्यायालय द्वारा यह निर्णय लिया गया है। श्री जमाल ने बताया कि उ0प्र0 सरकार इस फैसले के फिलाफ सुप्रिम कोर्ट जा सकती है इस लिये मैंने पूर्वापाय के रूप में दिल्ली में अपने अधिवक्ता से बात करके केविएट तैयार करने को कहा है। अगले सोमवार या मंगलवार को मेरी तरफ से माननीय सर्वाेच्च न्यायालय में केविएट भी दाखिल कर दिया जायेगा।

इस मौके पर कुरैशियों, नगर वासियों एवं क्षेत्रीय लोगों की एक बड़ी भीड़ श्री अरशद जमाल  को उनके इस अद्वितीय कार्य के प्रति उनका स्वागत करने एवं आभार व्यक्त करने हेतु यहां पहुँची थी, जिसमें अदालत के इस निर्णय से हर्ष व उल्लास साफ नजर आ रहा था। श्री जमाल ने भी उनका अभिवादन स्वीकार करते हुये जनहित में कर्तब्यों एवं जिम्मेदारियों के निर्वहन के प्रति अपने संकल्पों को पूरा करते रहने की यकीन देहानी करायी।

कोर्ट के फैसले की कॉपी डाउनलोड करने के लिए निचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें 

Slater House case news


लखनऊ में मीडिया के सामने।

कोर्ट के फैसले के बाद।
अल्लाह का शुक्र है कि आर्डर हमारे फेवर में आगया।
60 पेज का फैसला आया है। एक घण्टे में कॉपी मिलजाएगी। अरशद जमाल 




अरशद जमाल द्वारा लखनऊ बेंच में स्लाटर हाउस को चालू करने की अनुमति दिए जाने के सम्बन्ध में दाखिल याचिका पर 9 मई को हो गई सुनवाई-अरशद जमाल


अरशद जमाल द्वारा लखनऊ बेंच में स्लाटर हाउस को चालू करने की अनुमति दिए जाने के सम्बन्ध में दाखिल याचिका पर 9 मई को हो गई सुनवाई-अरशद जमाल 

मऊ का स्लाटर हाउस को चालू करने की अनुमति देने के लिये मैंने 2 मई को लखनऊ बेंच में जनहित दाखिल की। कोर्ट नम्बर एक मे नगर पालिका के पूर्व चेयरमैन अरशद जमाल की याचिका को स्वीकार करते हुए 4 मई को सुनवाई हुई। अगली सुनवाई 9 मई को है। माननीय कोर्ट ने उत्तरप्रदेश सरकार और नगर पालिका मऊ को 9 मई को कोर्ट में हाज़िर होकर जवाब देने का हुक्म दिया है। खबर मिलते ही शाशन में खलबली मच गई। 8 मई को आपात काल बैठक बुलाई गई है। मऊ से अधिशाषी अधिकारी विद्द्यासागर यादव को भी तलब किया गया है। दुआ करे कोई मुनासिब हल निकल जाए।



मिस्टर जमाल ने कोर्ट से अपील की है की जब तक आधुनिक स्लाटर हाउस न बन जाये तब तक पुराना स्लाटर हाउस को बहाल करने की अनुमति दे दी जाये  है, ताकि कुरैशी बिरादरान में हो रही भूख मरी को रोका जा सके.


कान्वेंट स्कूलों के प्रबंधकों और प्रधानाचार्यो की कलक्ट्रेट सभागार में हुई बैठक-अरशद जमाल


कान्वेंट स्कूलों के प्रबंधकों और प्रधानाचार्यो की कलक्ट्रेट सभागार में हुई बैठक

घोसी के सांसद श्री हरिनारायण राजभर जी की पहल पर आज कान्वेंट स्कूलों के प्रबंधकों और प्रधानाचार्यो के एक बैठक कलक्ट्रेट सभगर में हुई। बैठक में अपर ज़िलाधिकारी, ज़िला विद्द्यालय निरीक्षक, और भारतीय जनता पार्टी के नेता श्री मुन्ना दुबे ने भी भाग लिया




नगर पालिका परिषद् के पूर्व चेयरमैन अरशद जमाल विद्द्यालय प्रबन्धक संघ के अध्यक्ष की हैसियत से शिरकत की। बैठक में निर्णय लिया गया कि कोई विद्द्यालय स्कूल में किताबे और ड्रेस नही बेचेंगे। ये भी तय हुआ कि कोई भी विद्यालय दोहरी दाखला फीस नही लेगा 


मऊ शहर में नगर समाजवादी पार्टी का भब्य कार्यकर्ता सम्मेलन-अरशद जमाल


मऊ शहर में नगर समाजवादी पार्टी का भब्य कार्यकर्ता सम्मेलन, कारकुनों की भारी भीड़ में दिखा उत्साह
आगामी नगर पालिका चुनाव पर हुयी चर्चा
पार्टी जिसे सिम्बल देगी वही लड़ेगा चुनाव-अरशद जमाल

मऊनाथ भंजन। नगरीय निकाय चुनाव को ध्यान में रखते हुये समाजवादी पार्टी की प्रदेश नेतृत्व के निर्देशानुसार निकाय चुनाव को लेकर नगर अध्यक्ष जहीर सेराज की अध्यक्षता में आज चन्दन पैलेस में कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन हुआ। चूँकि पिछले 15 सालों से पूर्वांचल की सबसे बड़ी नगर पालिका परिषद मऊनाथ भंजन पर समाजवादी पार्टी का कब्जा है। इस लिये समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं का उत्साह देखने ही लायक था। हजारों की संख्या में पार्टी के कार्यकर्ताओं और नेताओं ने वर्तमान पालिका अध्यक्ष के प्रतिनिधि अरशद जमाल के नाम पर समाजवादी पार्टी के पालिका अध्यक्ष के पद के लिये हाथ उठा कर सर्व सम्मति से प्रस्ताव पारित किया। यह प्रस्ताव जिले को भेजा जायेगा। जिले की कमेटी सभी उम्मीदवारों के नामों पर चर्चा के उपरान्त एक या तीन नाम प्रदेश कार्यालय को भेजेगी जहां प्रदेश अध्यक्ष द्वारा किसी एक को प्रत्याशी बनाये जाने पर अन्तिम मुहर लगायी जायेगी।


सम्मेलन के मुख्य अतिथि सपा जिलाध्यक्ष धर्मप्रकाश यादव ने सभी लोगों का आभार व्यक्त करते हुए अपने सम्बोधन में पार्टी के समस्त कार्यकर्ताओं से आह्वाहन किया कि जिसको भी पार्टी टिकट दे उसे सभी लोग मिलकर जिताने का काम करें। उन्होंने यह भी कहा कि जो लोग भी पालिका अध्यक्ष पद या सभासद पद का चुनाव लड़ना चाहते हैं वे 8 मई तक अपना आवेदन अवश्य जिला कार्यालय पर सभी औपचारिकताओं को पूर्ण कर पहुँचा दें।

समाजवादी पार्टी के पूर्व विधान सभा प्रत्याशी अल्ताफ अंसारी ने कार्यकर्ताओं को सम्बोधित करते हुये कहा कि सपा सरकार ने विकास के एजेण्डे पर काम किया है। जनता की उन्नति व समृद्धि सेे समाजवादी पार्टी कोई समझौता नहीं करती। उन्होंने कहा कि पार्टी की यही कड़ी ऐसी है जो हार के बाद भी स्वयं को संतुलित रखती है और अपने मनोबल व उत्साह में कमी नहीं आने देती। कुरैशी बिरादरी पर पड़ी आपदा पर उन्होंने कहा कि कुरैशी भाइयों एवं प्रदेश की अवाम की परेशानियों को लेकर समाजवादी पार्टी जन आन्दोलन करेगी। यह नगर पालिका परिषद का चुनाव फिरकापरस्त ताकतों के खिलाफ एक चुनौती है, हमें इस चुनौती को स्वीकार करते हुये ऐसे व्यक्ति को पालिका अध्यक्ष बनाना है जो इन चुनौतियों को स्वीकार करते हुये जनआन्दोलनों की अगुवाई करते हुये मऊ को विकास के रास्ते पर लेकर आगे बढ़े।



कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुए पूर्व पालिकाध्यक्ष अरशद जमाल ने आगामी नगर पालिका परिषद के चुनाव पर विस्तृत चर्चा की। कहा कि जिसे पार्टी टिकट देगी वही चुनाव लड़ेगा। उन्होंने अपील करते हुये कहा कि कार्यकर्ताओं की यह भीड़ मात्र भीड़ नहीं बल्कि ये वह लोग हैं जो अपने उत्साह एवं समर्पण से पार्टी को हर सम्भव मजबूती दिलाने में लगे रहते हैं। श्री जमाल ने कहा कि जब से मऊ की अवाम ने मुझे जिम्मेदारी दी है, मैने अवाम के हित और सुख, समृद्धि के लिये हर सम्भव जनसेवा एवं विकास कार्य किये हैं। कुरैशी भाइयों की विपदा की चर्चा करते हुये कहा कि इनके अन्दर शिक्षा कम है, पैसा नहीं है जिससे यह लोग अपनी बात ठीक से कह नहीं पाते। यह लड़ाई बड़ी है इस लिये मैं स्वयं इनका मुकदमा लड़ रहा हूँ जो पूरे उ0प्र0 में ऐसा अकेला मुकदमा है। उन्होंने कहा कि नेता आप जैसे पार्टी के कर्मठ कार्यकर्ताओं के पीठ पर सवार होकर ही चुनाव लड़ता है, मेरी जीत भी पार्टी कार्यकर्ताओं के अन्थक मेहनत एवं योगदान में नीहित है। कार्यकर्ता रीढ़ की हड्डी के समान हैं। मुझे खुशी है कि आप सभी नगर समाजवादी पार्टी के आहवाहन पर इतनी बड़ी संख्या में उपस्थित हैं। इससे हमारा उत्साहवर्धन हुआ है। आपको पार्टी के लिये सदैव खड़े रहना है और हम पार्टी के सिपाही की हैसियत से आपके हक हुुकूक की लड़ाई लड़ते रहेंगे।


नगर समाजवादी पार्टी की ओर से बुलाये गये इस सम्मेलन को सम्बोधित करते हुये नगर अध्यक्ष जहीर सेराज ने कार्यकर्ताओं से कहा कि आज के इस सम्मेलन से यह बात स्पष्ट हो गयी है कि विगत विधान सभ चुनाव की हार के जख्म को भरने के लिये निकाय चुनाव जीत कर पार्टी के कार्यकर्ता आगे बढ़ना चाहते हैं। उन्होंने यह भी कहा कि जो लोग पिछले चुनाव में किसी कारणवश हमारे साथ नहीं आ पाये थे उन्हें भी इस चुनाव में जोड़ने का प्रयास करना चाहिये। नगर अध्यक्ष ने बताया कि चुनाव के तैयारियों के सम्बन्ध में कमेटियाँं गठित करने का काम तेजी से चल रहा है। 18 मई से 25 जून तक सभी 42 वार्डाें में वार्ड समितियों के कार्यकर्ताओं की बैठक की तिथि व समय निर्धारित कर दिया गया है। हर वार्ड में 21 लोगों की चुनाव संचालन समिति बनायी जायेगी। यह चुनाव सीधा समाजवादी पार्टी और भारतीय जनता पार्टी के दरमियान ही लड़े जाने की सम्भावना है। क्यों कि पिछले 15 सालों से देखा जा रहा है कि हर चुनाव में समाजवादी पार्टी पहले स्थान पर रही और भारतीय जनता पार्टी दूसरे स्थान पर रही है। जहीर सेराज ने बताया कि जल्द ही नगर के लाइन उस पार के जो वार्ड हैं उनका कार्यकर्ता सम्मेलन कम्युनिटी हाल में आयोजित किया जायेगा। इस सम्ममेलन में वरिष्ठ कम्यूनिष्ट नेता कामरेड अनीस अहमद समाजवादी पार्टी में शामिल हुये।


   इस सम्मेलन में जिला महा सचिव कुद्दूस अंसारी, मंजूर मेम्बर, इकबाल मेम्बर, फैज मेम्बर, इस्माईल मेम्बर, खुर्शीद मेम्बर, कारी मुश्ताक मेम्बर, अहमद सोहैब ऐमन मेम्बर, नसीम मेम्बर, जावेद मेम्बर, मास्टर इज़हारुलहक अंसारी, अब्दुस्सलाम शामियाना, शकील प्रिया, बब्लू यादव, अख्लाक अहमद, अनीस अहमद, महमूद, कारी जमील, हाफिज शकील अहमद, मास्टर शमीम अहमद, अरशद, अमजद, जफरुल इस्लाम, मास्टर मजहर, मोलवी सुफियान, इकबाल अहमद आदि के इलावा बड़ी संख्या में नेतागण तथा कार्यकर्ता उपस्थित रहे। सम्मेलन की अध्यक्षता नगर अध्यक्ष जहीर सेराज ने तथा संचालन नगर महासचिव मुहम्मद दानिश ने किया।