विश्व पर्यावरण दिवस पर जनमानस को जागरुक करने हेतु नगर पालिका द्वारा निकाली गयी जागरुकता रैली-अरशद जमाल

विश्व पर्यावरण दिवस पर जनमानस को जागरुक करने हेतु नगर पालिका द्वारा निकाली गयी जागरुकता रैली
खुले में न करें शौच, शौचालय रहित परिवार नगर पालिका से सहयोग राशि प्राप्त कर घरों में बनवाएं शौचालय-विद्यासागर यादव
घरों से ही सूखा व गीला कूड़ा करलें अलग, सभी परिवारों को पालिका द्वारा वितरित की जायेगी डस्टबिन-अरशद जमाल

मऊनाथ भंजन। स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत आज विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर अपने घरों में ही अपशिष्ट (कूड़ों) को अलग करने हेतु जन साधारण को जागरुक करने के उद्देश्य से नगर पालिका परिषद, मऊ ने रैली निकाली। जिसमें पालिका के सभी अधिकारी शामिल रहे। यह जागरुकता रैली नगर पालिका परिषद से आरम्भ हो कर लोगों को जागरुक करते हुये आजमगढ मोड़ तक पहुँच कर समाप्त हुई। 


अधिशासी अधिकारी विद्यासागर यादव ने स्वच्छ भारत मिशन के अन्तर्गत निकाली गयी इस रैली में मऊ नगर वासियों से अपील करते हुये कहा कि आप अपने घरों से सूखा कूड़ा (अजैविक) नीले डस्टबिन में और गीला कूड़ा (जैविक) अलग कर हरी डस्टबिन में एकत्र करें। हमारे सफाई कर्मचारी उसे आपके घरों से उठा लेंगे। श्री यादव ने कहा कि खुले में शौच न करें। जिन परिवारों के पास शौचालय नहीं है वे नगर पालिका से सम्पर्क कर स्वच्छ भारत मिशन योजना के अन्तर्गत 8000.00 रूपये की सहयोग धनराशि प्राप्त कर अपने घरों में ही शौचालय बनवायें।


अध्यक्ष प्रतिनिधि अरशद जमाल ने विश्व पर्यावरण दिवस के अवसर पर अपने संदेश में कहा कि हमें संकल्प लेना चाहिये कि हम अपने आस-पास के पर्यावरण की सुरक्षा करेंगे। इसी के साथ भारत सरकार की मंशा के मुताबिक हम इस रैली के माध्यम से आम लोगों को सफाई के प्रति जागरुक कर रहे हैं। श्री जमाल ने अपनी अपील में कहा कि हमें अपने घरों से आरम्भ कर आस पास के क्षेत्रों को साफ सुथरा रखना है। उन्होंने कहा कि सफाई से बीमारियों में कमी होती है और हमारे सामाजिक स्तर में बढ़ोत्तरी भी। श्री जमाल ने बताया कि इस समय नगर में लगभग 42500 घर हैं जिन्हें हम 85000 हरी एवं नीली डस्टबिन मुहैया कराने जा रहे हैं। पालिका की ओर से डस्टबिन उपलब्ध कराने की शुरूआत हो चुकी है। उन्होंने कहा कि आप अपने घरों से ही फल, सब्जी, मछली, गोश्त, रसोई का कूड़ा एवं अन्य खाद्य पदार्थ जैसे गीले कूड़े के लिये हरी डस्टबिन का प्रयोग करें तथा रबर प्लास्टिक, शीशा, कागज व अन्य सूखा कूड़ा एकत्र करने के लिये नीली डस्टबिन का प्रयोग करें। 


श्री जमाल ने बताया कि यह एक प्रकार से सामाजिक कार्य है जिसके लिये हमें स्वयं तत्पर रहने की आवश्यकता है तथा इसके लिये हमें स्वयं को मानसिक रूप से तैयार कर लेना चाहिये तभी सरकार की मंशा के मुताबिक यह योजना मूर्त रूप ले पायेगी तथ हमारे आस पास का वातावरण भी साफ एवं स्वच्छ हो पायेगा। हम सभी को अपने स्तर से ‘स्वच्छ भारत मिशन’ को कामियाब बनाने में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करानी है। 
इस रैली में अधिशासी अधिकारी-विद्यासागर यादव, कर अधीक्षक-गुफरानुल हई, सफाई निरीक्षक नरेश कुमार व राजेश कुमार झा, जलकल अभियन्ता-बब्बन प्रसाद, निर्माण लिपिक-धर्मेन्द्र कुमार पाण्डेय, प्रकाश लिपिक-चन्द्रिका प्रसाद, जलकल लिपिक-कमलेश पाण्डेय, आदर्श त्रिपाठी, अनित सिंह आदि के इलावा पालिका के कर्मचारियों ने सक्रिय रूप से भाग लिया।