हमारा ध्वज हमारे राष्ट्र का गौरव एवं आजादी का प्रतीक है-आशीष ओझा


देश की आजादी ने समानता प्रदान कर नागरिकों को आपसी सौहार्द एवं एकता के धागे में पिरो दिया
हमारा ध्वज हमारे राष्ट्र का गौरव एवं आजादी का प्रतीक है,
नागरिकों को सरकारी योजनाओं का लेना चाहिये लाभ-आशीष ओझा

मऊनाथ भंजन। आज स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर नगर पालिका पषिद में अधिशासी अधिकारी आशीष ओझा ने सभासदों व कर्मचारियों एवं प्रथमिक विद्यालय के बच्चों तथा क्षेत्रीय लोगों की मौजूदगी में पालिका प्रांगड़ में प्रातः 8 बजे तथा सदर चैक पर 8ः30 बजे झण्डारोहण किया। उन्होंने 8ः45 बजे शहीद स्मारक हट्ठीमदारी पर दीप प्रजबलित करने के पश्चात 9ः00 बजे हट्ठीमदारी स्थित पालिका पुस्तकालय पर ध्वलारोहण किया। तत्पश्चात उन्होंने आजादी की 70वीं वर्ष गाँठ पर लोगों को हृदय तल से आजादी के इस पावन पर्व की बधाई दी। 
स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर नगर पालिका परिषद के अधिशासी अधिकारी श्री आशीष ओझा ने अपने बधाई संदेश में कहा कि हमारा ध्वज हमारे राष्ट्र का गौरव एवं आजादी का प्रतीक है। इस लिये हम इस के सम्मान एवं सुरक्षा तथा देश की गंगा जमुनी तहजीब की हिफाजत के प्रति आज पुनः संकल्प लेते हैं। उन्होंने कहा कि जब किसी व्यक्ति को किसी घर में नजर बन्द कर दिया जाता है तो इस पर भी वह बिलख उठता है जबकि यहां तो पूरा देश ही गुलाम था और जिसकी हम कल्पना तक नहीं कर सकते। इस अवसर पर श्री ओझा ने सरकार की योजनाओ का जिक्र करते हुये कहा कि राष्ट्र को उन्नति के मार्ग पर तेजी से दौड़ाने और प्रत्येक नागरिक को देश की उन्नति की मुख्य धारा से जोड़ने के लिये सरकार ने कई जनकल्याणकारी योजनोयें बनाई हैं। उन्होंने कहा कि शहर के गरीबों को आवास मिल सके इसके लिये नगर वासियों को प्रधानमंत्री शहरी आवास योजना का पूर्ण लाभ लेना चाहिये। इसी के साथ उन्होंने स्वच्छ भारत मिशन के तहत शौच निर्माण कराने पर भी बल दिया। अधिशासी अधिकारी श्री ओझा ने कहा कि हमें नगर को साफ सुथरा बनाये रखना है और अपने राष्ट्र की स्वच्छ छवि को और भी अधिक बेहतर बनाना है।



इस अवसर पर विजय राजभर व साहनी ने अपने सम्बोधन में कहा कि हमें यह सोचना चाहिये कि हम अपने राष्ट्र की उन्नति में क्या योगदान दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि आज एक दूसरे के साथ गले मिलकर खुशियां मानाने तथा आपसी सौहार्द को बेहतर बनाने पर विचार करने का दिन है।
शमशाद अहमद एवं फहीजुर्रहमान ने लोगों को सम्बोधित करते हुये कहा कि विश्व के अन्यदेशों में भी आज भारतीय मूल के लोग भारत की आजादी की खुिशयां मना रहे हैं। हमारी आजादी ने हर वर्ग, धर्म एवं जाति के लोगों को समान रूप से फलने-फूलने का अधिकार प्रदान किया है। हमें राष्ट्र के प्रति अपने कर्तब्यों का निष्ठापूर्वक निर्वहन करना चाहिये।


आजादी के इस पावन पर्व के अवसर पर पूर्व पालिका अध्यक्ष श्री अरशद जमाल ने अपने जन संदेश में नगरवासियों से कहा है कि आजादी प्राप्त करने के लिये देश वासियों ने एक पंक्ति में धर्म, समुदाय एवं वर्ग का भेद भुला कर आजादी की लड़ाई लड़ी थी, जिसके फलस्वरूप ही हमारे मुल्क को वर्षाें की भयानक गुलामी की जंजीर से मुक्ति मिली। हमें आजादी के उसी मूल को समझना है और अपने को इस के लिये पूर्ण रूप से सक्षम बनाना है क्यों कि हम आजाद वातावरण में पैदा हुये हैं जिसके कारण ही हमें गुलामी की यातनाओं का भयंकराभास नहीं हो पा रहा है। पूर्व पालिका अध्यक्ष अरशद जमाल ने नागरिकों को बधाई देते हुये कहा कि हमें अपने विचारों में बदलाव लाते हुये मुल्क की स्मिता की हिफाजत के लिये एक जुट होकर कार्य करने की अति आवश्यकता है ताकि आजादी के सही उद्देश्यों को प्राप्त करने में कोई रूकावट उत्पन्न न होनेे पाये। उन्होंने कहा कि हमारी आजादी ने समानता प्रदान कर देश के सभी नागरिकों को आपसी सौहार्द एवं एकता के धागे में पिरो दिया है। हमें इसे समझना होगा तथा हमारे गणतन्त्र के मूल को बनाये रखने में पूर्ण रूप से अपना योगदान देना भी हमारी मुख्य जिम्मेदारी है।
इस अवसर पर फैयाज अहमद, इकबाल अहमद, अताउल्लाह, इकबाल अहमद, बिकायल, कर अधीक्षक-गुफरानुल हई, सफाई निरीक्षक-नरेश कुमार, धर्मेन्द्र कुमार पाण्डेय, जेई-बब्बन प्रसाद, आदर्श त्रिपाठी, कमलेश पाण्डेय, मुहम्मद फैसल, अनित सिंह व सफाई नायक एवं समस्त अधिकारी व कर्मचारी, प्राथमिक विद्यालय युसुफपुरा, प्राथमिक विद्यालय हरकेश पुरा, प्राथमिक विद्यालय मुगलपुरा के बच्चे, अध्यापक एवं प्रधानाचार्यगण के इलावा बड़ी संख्या में क्षेत्रीय लोग उपस्थित रहे।