मस्कन में फ्री में आन लाइन भरा जा रहा है फार्म-अरशद जमाल



''मस्कन'' में फ्री में आन लाइन भरा जा रहा है फार्म
मौलाना आजाद नेशनल छात्रवृत्ति योजना का नाम बदल कर हुआ बेगम हजरत महल नेशनल छात्रवृत्ति
9 वीं से 12 वीं कक्षा में पढ़ रही अल्पसंख्यक छात्राओं को मिलेगी यह छात्रवृत्ति-अरशद जमाल

मऊनाथ भंजन। पूर्व पालिका अध्यक्ष अरशद जमाल ने आज एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया है कि मौलाना आजाद नेशनल छात्रवृत्ति योजना का नाम बदल कर बेगम हजरत महल नेशनल छात्रवृत्ति योजना कर दिया गया है। ज्ञातब्य रहे कि पूर्व में श्री जमाल ने मऊ की हजारों लड़कियों को मौलाना आजाद नेशनल छात्रवृत्ति का लाभ दिलवाया था जिससे आज वे उच्च शिक्षा के मार्ग पर अग्रसर हैं। श्री जमाल ने बताया कि बेगम हजरत महल नेशनल छात्रवृत्ति योजना के अन्तर्गत लड़कियो को विद्यालय, कॉलेज शुल्क के भुगतान, पाठ्य पुस्तकों की खरीद, पाठ्यक्रम के लिए आवश्यक स्टेशनरी, उपकरणों की खरीद और बोर्डिंग, लॉजिंग शुल्क के भुगतान पर व्यय के लिए इस छात्रवृत्ति से छात्राओं को आर्थिक लाभ प्राप्त होगा। उन्होंने बताया कि कक्षा प्ग् और ग् के लिए प्रवेश और ट्यूशन शुल्क के रूप में अधिकतम रू 10000 (दस हजार रुपये) दी जायेगी, जो 5-5 हजार रूपये की दो किस्तों में जारी की जाएगी। कक्षा 11 और बारहवीं के लिए प्रवेश और ट्यूशन शुल्क रु0 12000 दी जायेगी, जो 6-6 हजार रूपये की दो किस्तों में जारी की जाएगी।


श्री जमाल ने बताया कि मुस्लिम, क्रिश्चियन, सिख, बुद्ध, जैन एवं पार्सी समुदायों की छात्राओं को इस छात्रवृत्ति का लाभ प्राप्त होगा। इस के लिए उन्हें पोर्टल पर ऑनलाइन आवेदन करना अनिवार्य है। आवेदक वेबसाइट http:/maef.nic.in पद पर फॉर्म भरें और प्रिंट करें और निर्धारित समय के भीतर सभी आवश्यक दस्तावेजों के साथ, एमएईएफ कार्यालय को भेजें। 
जिन छात्राओं के माता-पिता एवं संरक्षक की वार्षिक आय 2 लाख रूपये से कम होगी तथा पिछली परीक्षा में कम से कम 50 प्रतिशत अंक प्राप्त किया होगा उन्हें इस छात्रवृत्ति हेतु पात्र छात्राओं के रूप में चयनित किया जायेगा।
श्री जमाल ने बताया कि आन लाइन आय प्रमाण पत्र, बैंक पासबुक, आधार कार्ड, एक फोटो एवं सभी आवश्यक कागजात की फोटोकापी के साथ मेरे कैम्प कार्यालय ‘मस्कन’ में सुबह 10 बजे से दोपहर 2 बजे तक निःशुल्क आन लाइन फार्म भरने हेतु सम्पर्क किया जा सकता है। जिन छात्राओं ने इस वर्ष 11 की कक्षा पास की है और उन्हें मौलाना आजाद नेशनल फाउण्डेशन से 6000 रूपये की स्कालरशिप मिली है वह भी इस योजना में सम्मिलत हैं।