अगर समय से बिजली आपूर्ति बेहतर न हुयी तो होगा आन्दोलन-अरशद जमाल


बिजली कटौती को लेकर समजवादी पार्टी ने नगर मजिस्ट्रेट को सौंपा ज्ञापन 
अगर समय से बिजली आपूर्ति बेहतर न हुयी तो होगा आन्दोलन-अरशद जमाल

मऊनाथ भंजन। मऊ एक बुनकर बाहुल्य क्षेत्र है। यहां की अधिकतर आबादी बुनाई के पेशे से सम्बद्ध है। ताने बाने की इस नगरी में कई सप्ताह से विद्युत आपूर्ति की दयनीय स्थिति के चलते नगर के बुनकरों की रोजी-रोटी ठप सी है। आगे मुहर्रम और दशहरे का पर्व भी आयोजित होना है। ऐसी थिति में आज समाजवादी पार्टी के वरिष्ट नेता व नगर पालिका परिषद के पूर्व चेयरमैन अरशद जमाल के नेतृत्व में एक प्रतिनिधिमण्डल ने नगर मजिस्ट्रेट से मुलाकात कर उन्हें बिजली की आपूर्ति अविलम्ब बेहतर बनाने हेतु ज्ञापन दिया। ज्ञाप में कहा गया है कि वर्तमान हालात ऐसे हैं कि मात्र 7-8 घण्टे ही बिजली मिल पा रही है वह भी इतना कम वोल्टेज होता है कि पावरलूम चलाना सम्भव नहीं हो पाता है।


मांग पत्र में कहा गया है कि खराब विद्युत आपूर्ति से बुनकरों के सामने रोजी रोटी का भयंकर संकट खड़ा हो गया है। प्रतिनिधिमण्डल ने नगर मजिस्ट्रेट और अधिशासी अभियन्ता विद्युत वितरण खण्ड को दिये गये पत्रक में स्पष्ट रूप से बताया है कि अगर फौरी तौर पर बिजली आपूर्ति में सुधार नहीं किया गया तो किसी भी समय जनता सड़कों पर उतर कर धरना, प्रदर्शन एवं आन्दोलन कर सकती है। पत्रक देने के बाद समाजवादी पार्टी के नेताओं ने प्रेस नोट में बताया है कि समाजवादी पार्टी की सरकार में जहां 24 घण्टे बिजली मिला करती थी वहां 8 घण्टे मिलना भी मुश्किल हो गया है जो सरकार की नाकामियों को दर्शाता है। सरकार को यह समझना होगा कि जनता अगर कुर्सी पर बिठा सकती है तो कुर्सी से हटा भी सकती है।


प्रतिनिधिमण्डल में सदर विधान सभा अध्यक्ष बब्लू यादव, नगर पालिका के सभासदगण जावेद अख्तर, इस्माईल, अताउल्लाह, इकबाल अहमद, जावेद अख्तर, अहमद सोहैब अर्सलान (ऐमन), इर्फान अहमद, तारिक, मोबीन, इजहार अहमद, अफजाल अहमद, शमशाद अहमद आदि शामिल रहे।