डोमनपुरा तेलियाना, हत्थीमदारी, प्यारेपुरा में वार्ड मीटिंग आयोजित-अरशद जमाल


डोमनपुरा तेलियाना, हत्थीमदारी, प्यारेपुरा में वार्ड मीटिंग आयोजित
अरशद जमाल की कोई मिसाल नहीं-अल्ताफ अंसारी
नया कीर्तिमान होगा स्थापित, लड़ता रहूँगा आपके अधिकार की लड़ाई-अरशद जमाल

मऊनाथ भंजन। समाजवादी पार्टी से मऊ नगर पालिका परिषद के अध्यक्ष पद के उम्मीदवार अरशद जमाल ने आज डोमनपुरा तेलियाना, हत्थीमदारी और प्यारे पुरा में आयोजित वार्ड बैठक में लोगों को संबोधित किया। बैठक में बूथों के गठन के साथ पार्टी कार्यकर्ताओं को जिम्मेदारी सौंपी गई और उन्हें चुनावी रणनीति पर काम करने एवं लोगों से सम्पर्क कर अरशद जमाल के विकास योजना के बारे में बताने की हिदायत दी गयी। इसी के साथ अरशद जमाल ने सहादतपुरा राजभर बस्ती में जनसम्पर्क कर लोगों से वोट मांगा। 




बैठक में अल्ताफ अंसारी ने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि जनप्रतिनिधि ऐसा होना चाहिए जो शहर की समस्याओं का निपटारा कर सके। अरशद जमाल द्वारा किया गया विकास खुद बोल रहा है। नगर के विकास और संसाधनों को उपलब्ध कराना एक अत्यन्त अहम काम है, जिसे अरशद जमाल के इलावा कोई और नहीं कर सकता।

बैठक की अध्यक्षता कर रहे डॉक्टर हम्माद अहमद ने कहा कि मतदाताओं को क्षेत्र की समस्याओं के समाधान के लिए योग्य उम्मीदवार को चयन करने के प्रति अपने मताधिकार का प्रयोग करना चाहिये। उन्होंने कहा कि आप उद्देश्यपूर्ण वोट करें ताकि हमारी राजनैतिक जिम्मेदारियों के प्रति हमारा सकारात्मक विचार देश के लोकतांत्रिक मूल्यों को मजबूत बनाये और हमें एक बेहतर जनप्रतिनिधि प्राप्त हो सके।


कॉमरेड अनीस अहमद और भगवान यादव ने कहा कि अरशद जमाल विकास और मानवता के प्रतीक हैं। नगर पालिका के साथ अरशद जमाल का नाम जोड़ कर ही नगर का वांछित विकास सम्भव है।
अरशद जमाल ने कहा कि यह चुनाव शहर के चैतरफा विकास के लिए एक नया कीर्तिमान स्थापित करेगा। उन्होंने कहा कि जो लोग अपनी पार्टी के वफादार नहीं बन सके वह आपके साथ वफादारी कैसे कर सकते हैं। विकास के सभी पहलुओं पर मेरी नजर है। हर आवश्यकता पूरी करुँंगा और मैं अपने मिशन से कभी पीछे हटने वाला नहीं हूँ। सभी क्षेत्रीय समस्याओं को हल करने के लिए मैं आपकी लड़ाई लड़ता रहूँगा।


इस अवसर पर विशेष रूप से फैजुद्दीन, मंसूर अहमद, मोहम्मद रफी, जहीर अहमद, मोहम्मद अब्दुल्लाह, निसार अहमद, शकील अहमद, मौलवी अंसार, मौलवी सेराज, ओजैर अहमद, जावेद अहमद, विनय बर्नवाल, पूर्नवासी, नफीस अहमद, मतीन, नेयाज भारत, अफजाल अलंकार, मुख्तार हुसैन, मौलवी सईद, अब्दुल कवी, अकील, पप्पू, मोलवी जियाउलहसन, मुख्तार चक्की, हाजी अनीस, हाफिज बदरुलहसन, मोलवी सलमान, इश्तियाक पहलवान, इश्तियाक नुमाइश, इफ्तेखार अहमद, यूनुस, मीना साड़ी, अबुल्लैस पान वाले, अंसार अहमद आदि के अतिरिक्त बड़ी संख्या में क्षेत्रीय लोग मौजूद थे।